लक्ष्य के प्रति समर्पित-motivational story for students

हेलो दोस्तों आज (motivational story for students) एक प्रेरणादायक कहानी है जो आप लोगों ने बहुत बार पढ़ी भी होगी और सुनी भी होगी यह कहानी है महाभारत काल की जब पांडव और कौरव अपनी शिक्षा के लिए गुरुकुल पढ़ने गये थे और द्रोणाचार्य उनके गुरु थे एक समय द्रोणाचार्य ने सारे शिष्यों की परीक्षा ली और देखना चाहा कौन अपने लक्ष्य को भेद कर सकता है

गुरु द्रोणाचार्य सारे शिष्यों को एक पेड़ के पास ले गये और कहा शिष्यों इस पेड़ पर एक चिड़िया बैठी है तुम्हें उसकी आँख में तीर मारना है पहला शिष्य आया उसने पेड़ पर देखा पर उसे तो चिड़िया ही नहीं दिखी अब दूसरे शिष्य की बारी आई वह बोला गुरु जी मुझे डालिया और पत्तो के सिवा कुछ नहीं दिखाई दे रहा है motivational story for students

फिर तीसरे शिष्य की बरी आयी उसने कहा गुरुजी चिड़िया तो मुझे दिखाई दे रही पर उसकी आंख मुझे ठीक से नहीं दिखाई दे रही गुरु ने कहा अब तुम भी जाओ सारे शिष्य ने परीक्षा थी लेकिन कोई भी उस चिड़िया की आंख को वेध नहीं कर पाए अब सिर्फ अर्जुन ही शेष बचा था तो गुरु जी ने का अर्जुन अब तुम्हारी बारी है motivational story for students

फिर अर्जुन आया उन्होंने सारे वृक्ष को ना देख कर अपना सारा ध्यान उस चिड़िया की आँख पर ही लगाया उन्हें बस चिड़िया की आँख के सिवा कुछ भी नहीं दिखाई दे रहा था और फिर उन्होने धनुष पर तीर रख कर अंदर साँस को लेकर तीर को छोड़ दिया उस तीर ने चिड़िया की आँख को वेध दिया ये देख कर सारे शिष्य तालियाँ बाजाने लगे motivational story for students

सीख हम सभी को अपने लक्ष्य के प्रति अर्जुन की तरह समर्पित होना चाहिए जैसे अर्जुन ने सारे वृक्ष में उस चिड़िया की सिर्फ आपको देखा वैसे ही हमें अपने लक्ष को देखना चाहिए हमें और शिष्यों की तरह भटकना नहीं चाहिए जैसे अर्जुन नहीं भटका जो सिर्फ हमारा लक्ष्य है उसी पर अपना सारा ध्यान केंद्रित करना चाहिए

motivational story for students

जैसे अर्जुन ने किया तभी हम अपने लक्ष्य का वेध कर पाएंगे ( पहुंच पाएंगे ) स्वामी विवेकानंद जी ने बहुत अच्छा कहा है उठो जागो और तब तक चलते रहो जब तक कि तुम्हें तुम्हारा लक्ष्य हासिल नहीं हो जाता है हमें भी इन बातों का स्मरण करते हुए आगे बढ़ना चाहिए फिर हमारा मन कभी भी अपने उद्देश्य से नहीं भटकेगा आप को आप को ये (motivational story for students) कहानी कैसी लगी अपनी राय जरूर बताये

शायद ये कहानियां भी आपको पसंद आए

love story kahani hindi-एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी
moral and motivation in hindi गधे की तरह बनिए
romantic a cute love story in hindi-वो अजनबी लड़की
एक लड़की मेरी आँखों के सामने मरती रही ही
मुझे वो लड़की किस्मत से मिली-heart touching true love
sad love story in hindi heart touching मेरे साथ ही क्यों
love story in hindi heart touching विश्वास ही शादी है
short love stories in hindi with moral-सच्चे प्रेमी जो

 


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *